लक्षद्वीप में कितने द्वीप है

लक्षद्वीप में कितने द्वीप है: लक्षद्वीप में 36 द्वीप हैं, जिनमें से 10 बसे हुए हैं, 17 निर्जन हैं, और 9 जलमग्न हैं.

लक्षद्वीप के मोहक द्वीपों का अनोखा सफर: प्रकृति का खोया खजाना

अगर आप कोमल रेत, फ़िरोज़ी पानी और हरे-भरे नारियल के पेड़ों से घिरे स्वर्ग की तलाश कर रहे हैं, तो लक्षद्वीप से बेहतर कोई जगह नहीं है. भारत के दक्षिण-पश्चिमी तट से दूर अरब सागर में बिखरे 36 मोहक द्वीपों का यह समूह प्रकृति का एक अनछुआ हुआ रत्न है। “लक्षद्वीप”, जिसका अर्थ संस्कृत में “एक लाख द्वीप” है, वास्तव में 36 आश्चर्यजनक द्वीपों का घर है, जिनमें से केवल 10 आबाद हैं।

यह लेख लक्षद्वीप के द्वीपों की संख्या, उनके आकर्षण और इस मंत्रमुग्ध करने वाले द्वीपसमूह की यात्रा की योजना बनाने में आपकी सहायता करेगा।

द्वीपों की संख्या और उनके प्रकार:

यद्यपि लक्षद्वीप का नाम “एक लाख द्वीप” का अनुवाद है, लेकिन वास्तव में इसमें 36 द्वीप हैं। इनमें से केवल 10 द्वीप आबाद हैं, जबकि शेष 26 निर्जन हैं। आबाद द्वीप हैं:

  • कवरत्ती: लक्षद्वीप की राजधानी, कवरत्ती एक आकर्षक द्वीप है जो अपने सुंदर समुद्र तटों, लैगून और जीवंत संस्कृति के लिए जाना जाता है।
  • अगत्ती: लक्षद्वीप का दूसरा सबसे बड़ा द्वीप, अगत्ती अपने बैकवाटर, नारियल के बागानों और लुप्तप्रायः लैकडाइव स्तार कछुओं के लिए प्रसिद्ध है।
  • अमिनी: लक्षद्वीप के सबसे छोटे द्वीपों में से एक, अमिनी अपनी शांत वातावरण, सफेद रेत के समुद्र तटों और लैगून के लिए जाना जाता है।
  • कदमत: लक्षद्वीप के उत्तरी भाग में स्थित, कदमत अपने समृद्ध वनस्पति और जीवों के लिए प्रसिद्ध है।
  • किलाटन: लक्षद्वीप के सबसे सुदूर द्वीपों में से एक, किलाटन अपने निर्जन समुद्र तटों और प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जाना जाता है।
  • चेतलाट: लक्षद्वीप के मध्य भाग में स्थित, चेतलाट अपने लैगून और मूंगे की चट्टानों के लिए प्रसिद्ध है।
  • बिट्र्रा: लक्षद्वीप का सबसे छोटा आबाद द्वीप, बिट्र्रा अपनी शांत वातावरण और सुंदर समुद्र तटों के लिए जाना जाता है।
  • आन्दोट: लक्षद्वीप के दक्षिणी भाग में स्थित, आन्दोट अपने लैगून और जलीय जीवन के लिए प्रसिद्ध है।
  • कल्पनी: लक्षद्वीप के सबसे पूर्वी द्वीपों में से एक, कल्पनी अपने नारियल के बागानों और लैगून के लिए प्रसिद्ध है।
  • मिनिकॉय: लक्षद्वीप का सबसे दक्षिणी द्वीप, मिनिकॉय अपनी विशिष्ट लक्षद्वीप संस्कृति, लैगून और मूंगे की चट्टानों के लिए जाना जाता है।
See also  What is the most expensive hotel per night in the world
Share
Follow Us
Facebook